Skip to main content of main site

MCD के आधे-अधूरे प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करा रही है BJP , AAP करेगी MCD के भ्रष्टाचार पर कड़ा प्रहार, कराएंगे जांच

AAP/PR/6March17/MCD 

MCD के आधे-अधूरे प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करा रही है BJP 

आगामी MCD चुनाव में हार के डर से BJP में घबराहट 

MCD में BJP के कुशासन से दिल्ली की जनता ग़ुस्से में 

AAP करेगी MCD के भ्रष्टाचार पर कड़ा प्रहार, कराएंगे जांच 

दिल्ली नगर निगम में पिछले बीस साल से काबिज़ बीजेपी-कांग्रेस ने मिलकर दिल्ली की एमसीडी को भ्रष्टाचार का अड्डा बनाकर रखा है और पूरी दिल्ली को कचरे का डिब्बा। बीजेपी को आगामी एमसीडी चुनाव में हार का डर सता रहा है और उसी डर की वजह से बीजेपी काम करने कि बजाए कुछ कारनामे कर रही है। बीजेपी के द्वारा जो कारनामे किए जा रहे हैं उन्ही कुछ कारनामों से सम्बधित बीजेपी के नेतृत्व से आम आदमी पार्टी कुछ सवाल पूछ रही है। आम आदमी पार्टी और दिल्ली की जनता यह जानना चाहती है कि हाल ही में जल्दबाज़ी में MCD ने अपने आधे अधूरे प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन किया है और इससे यह साबित होता है कि बीजेपी मुख्यत: दिल्ली की जनता के गुस्से और आक्रोश से बचने के लिए आधे अधूरे प्रोजेक्ट्स को शुरू कर रही है क्योंकि दिल्ली की जनता नगर निगम में बीजेपी के इस कुशासन को लेकर बेहद गुस्से में है। 

प्रेस कांफ्रेंस में बोलते हुए पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और दिल्ली संयोजक दिलीप पांडे ने कहा कि 'साऊथ दिल्ली में बन रहे साइंस म्यूज़ियम को पूरा होने में अभी वक्त लगेगा और वह अभी प्रयोग के क़ाबिल भी नहीं है, लेकिन एमसीडी के आगामी चुनाव को देखते हुए सिर्फ़ काम के नाम पर गिनवाने के लिए उसका उद्घाटन कर दिया गया है। दूसरी तरफ़ खबर यह भी आई है कि कालकाजी में अधूरी पार्किंग का उद्घाटन कर दिया गया है जहाँ पार्किंग के लिए अभी ठीक से व्यवस्था तक नहीं है। सिर्फ काम बताने के लिए ही लगातार इन सारे अधूरे प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करते जा रहे हैं जबकि व्यवस्था के नाम पर सबकुछ शून्य है।' 

'यह भी किसी से नहीं छिपा है कि 20 साल से भाजपा और कांग्रेस ने एमसीडी को बर्बाद कर दिया है, जितने साल से ये MCD चला रहे हैं लगभग उतने ही समय से दिल्ली के ऐतिहासिक रानी झाँसी मार्ग का फ्लाईओवर बन रहा है जो अभी पूरा भी नहीं हुआ है। इस फ्लाई-ओवर का का बजट 70 करोड़ रुपये से शुरू होकर साल दर साल लंबित होते हुए आज 700  करोड़ से ऊपर जा पहुँचा है और आज भी इसकी कोई जवाबदेही नहीं है, किसी की जिम्मेदारी नहीं है जो यह बताये कि ये प्रोजेक्ट पूरा कब होगा। शहरी विकास मंत्रालय हर साल उसका बजट बढ़ा देती है, करोड़ों रुपये उसमे जोड़ देती है। ये कुछ बहाने बना देते हैं और लगातर ये प्रोजेक्ट साल दर साल लंबित होता जा रहा है। वहीं दिल्ली की सरकार ने समय से पहले एक नहीं बल्कि कई फ्लाईओवर तैयार किए हैं और पैसे भी बचाए हैं | सीधी सी बात ये है कि एमसीडी को चला पाना भाजपा और कांग्रेस के बस की बात नहीं है |' 

'सोचने वाली बात ये है कि जो भाजपा पूरे देश में विकास के नाम पर वोट मांगने का दंभ भरती है और वहीं उसका काम शून्य है। कुछ सवाल हम भाजपा और कांग्रेस से पूछना चाहते हैं। - 

1. क्या रानी झांसी रोड़ का ये 20 साल से अधूरा पड़ा हुआ फ्लाईओवर भाजपा के विकास की खोखली राजनीति को मुंह नहीं चिढ़ा रहा है़? 

2. हम जानना चाहते हैं कि आधे अधूरे प्रोजेक्ट का उद्घाटन करके भाजपा किसे मूर्ख बनाने का प्रयास कर रही है? 

3. पूरी दिल्ली में भाजपा के या कांग्रेस के पार्षद हैं अभी पिछले चार महीने में सभी पार्षद एक्टिव हो गए हैं और ये दिखा रहे हैं कि जैसे बहुत ज्यादा काम कर रहे हैं जबकि सवाल यह है कि जनता के लिए साढ़े चार साल तक ये क्या कर रहे थे? 

'ये सारे सवाल है जिसका जवाब भाजपा को देना चाहिए और जवाब ना देने से ये साबित हो जाता है कि भाजपा आगामी निगम के चुनाव में अपनी हार से बौखला कर ही ये काम कर रही है' 

'आम आदमी पार्टी स्पष्ट करना चाहती है कि एमसीडी में आम आदमी पार्टी के आने के बाद इन सारे प्रोजेक्ट्स की फ़ाइलों को री-ऑपेन किया जाएगा और इनकी जाँच बिठाई जाएगी और जो भी इन आधे अधूरे प्रोजेक्ट का उद्घाटन करने में जनता के पैसे को बर्बाद करने का ज़िम्मेदार पाए जायेंगे उनको उनकी सही जगह मतलब जेल पहुंचाया जाएगा' 

Make a Donation